फैक्ट चेक: क्या वाकई अमर जवान ज्योति को बुझा दिया गया है, जैसा कि राहुल गाँधी क्लेम कर रहे है?

Amar Jawan Jyoti flame merged with the flame at the National War Memorial
Amar Jawan Jyoti flame merged with the flame at the National War Memorial

नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री मोदी ने घोषणा की है कि नेताजी की भव्य प्रतिमा को इंडिया गेट पर स्थापित किया जायेगा। वही अमर जवान ज्योति को नेशनल वॉर मेमोरियल में शिफ्ट कर दिया गया है। लेकिन इसी बीच अफवाहों का बाज़ार गर्म हो चुका था।

कई तरह कि अफवाहों को हवा दी गयी, जिसमें सबसे बड़ी अफवाह थी की 50 वर्षों से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ की अग्नि को बुझा दिया जाएगा। और इस प्रकार की अफवाहों को उड़ाने में विपक्षी दल के नेताओं का बहुत ही बड़ा हाथ था।

इसी क्रम में कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने भी गैर जिम्मेदाराना व्यवहार करते हुए अमर जवान ज्योति को बुझा देने का क्लेम किया। उन्होंने ट्वीट किया कि, “बहुत दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा। कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते- कोई बात नहीं…हम अपने सैनिकों के लिए अमर जवान ज्योति एक बार फिर जलाएँगे!”

आप समझ सकते है कि फिर सभी कांग्रेसी और विपक्षी नेताओं ने इसी अफवाह को पुरे दिन सोशल मीडिया पर उड़ाया। पर जल्दी ही DD न्यूज़ ने सरकारी सूत्रों के हवाले से ट्वीट करके बताया कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है। अमर जवान ज्योति की अग्नि को नेशनल वॉर मेमोरियल की ज्योति के साथ विलय कर दिया गया है।

तो सही फैक्ट यही है कि अमर जवान ज्योति को नहीं बुझाया गया है बल्कि इसका नेशनल वॉर मेमोरियल की ज्योति के साथ विलय किया गया है।

We use cookies in order to give you the best possible experience on our website. By continuing to use this site, you agree to our use of cookies.
Accept