इजराइल अब केवल 37 देशों को ही अपनी साइबर टेक्नोलॉजी बेचेगा

Israel will now sell its cyber technology to only 37 countries
Israel will now sell its cyber technology to only 37 countries

इजराइल की सरकार ने एक बहुत ही बड़ा फैसला लिया है जिसके तहत अब वो केवल कुछ ही देशों को अपनी साइबर टेक्नोलॉजी बेचेगा। पहले इजरायल 102 देशों को टेक्नोलॉजी एक्सपोर्ट करता था पर अब वो केवल 37 देशों को ही यह टेक्नोलॉजिस देगा।

इस लिस्ट में सिर्फ वही देश शामिल है जो लोकतांत्रिक हैं।

इजराइल अब केवल ऑस्ट्रेलिया, लिकटेंस्टीन, ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, बुल्गारिया, कनाडा, क्रोएशिया, साइप्रस, चेक गणराज्य, डेनमार्क, एस्टोनिया, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, आइसलैंड, भारत, आयरलैंड, इटली, जापान, लातविया, लिथुआनिया, माल्टा, न्यूज़ीलैंड, नॉर्वे, पुर्तगाल, लक्जमबर्ग, रोमानिया, स्लोवाकिया, स्लोवेनिया, दक्षिण कोरिया, स्पेन, स्वीडन, स्विट्ज़रलैंड, नीदरलैंड, यूके और यूनाइटेड स्टेट्स को ही अपनी साइबर टेक्नोलॉजी बेचेगा।

यह फैसला जब लिया गया है जब इजरायल के NSO ग्रुप पर सिक्योरिटी के मुद्दे पर Apple समेत कुछ टेक कंपनीज़ ने मुकदमा दायर किया है।

अब बस यह देखना है कि जिन देशों को इजराइल अपनी यह खास टेक्नोलॉजी बेचता था उनकी क्या प्रतिक्रिया होगी और उन पर क्या असर गिरेगा क्योंकि इससे काफी देशों को नुकसान होना तय है ही।

We use cookies in order to give you the best possible experience on our website. By continuing to use this site, you agree to our use of cookies.
Accept